Thursday, June 20, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमUncategorizedलक्ष्मी बॉम्ब को बैन करने की मांग, लगाए गए लव जिहाद फैलाने...

लक्ष्मी बॉम्ब को बैन करने की मांग, लगाए गए लव जिहाद फैलाने के आरोप

हिंदू जनजागृती समिती की तरफ से अक्षय की लक्ष्मी बॉम्ब को बैन करने की मांग की गई है. फिल्म पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है. बताया जा रहा है कि इस फिल्म के जरिए माता लक्ष्मी का अपमान किया जा रहा है और लव जिहाद को बढ़ावा दिया गया है.

एक्टर अक्षय कुमार की फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब को दर्शकों का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला है. फिल्म का ट्रेलर ट्रेंड कर गया है और सोशल मीडिया पर सिर्फ इसी के चर्चे होते दिख रहे हैं. लेकिन लक्ष्मी बॉम्ब को लेकर कई तरह के विवाद भी खड़े हो गए हैं. एक तरफ अगर फिल्म को पसंद किया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ एक तबका ऐसा भी है जो फिल्म पर बैन लगाने की मांग कर रहा है.

लक्ष्मी बॉम्ब को लेकर बवाल
Laxmmi-Bomb_jstnews
Laxmmi-Bomb_jstnews

हिंदू जनजागृती समिती की तरफ से अक्षय की लक्ष्मी बॉम्ब को बैन करने की मांग की गई है. फिल्म पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगा है. बताया जा रहा है कि इस फिल्म के जरिए माता लक्ष्मी का अपमान किया जा रहा है और लव जिहाद को बढ़ावा दिया गया है. इस सिलसिले में हिंदू जनजागृती समिती के प्रवक्ता रमेश शिंदे ने एक बयान जारी किया है. उन्होंने एक तरफ अक्षय की फिल्म पर कई तरह के आरोप लगाए हैं, वहीं दूसरी तरफ महाराष्ट्र की सरकार पर भी निशाना साधा गया है.

धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप
laxmibomb_jstnews
laxmibomb_jstnews

बयान में कहा गया है- दिवाली पर रिलीज हो रही फिल्म का नाम जानबूझकर लक्ष्मी बॉम्ब रखा गया है. इसलिए हमारी पहली आपत्ति तो फिल्म के नाम को लेकर ही है. हम तो कई सालों से लोगों को लक्ष्मी फायर क्रैकर ना जलाने की अपील कर रहे हैं क्योंकि ये हिंदू देवी का अपमान है, लेकिन ये फिल्म तो लोगों को पटाखे जलाने के लिए प्रेरित करेगी. वहीं फिल्म में लव जिहाद का एंगल जोड़ते हुए शिंदे कहते हैं- फिल्म में हीरो का नाम आसिफ है, वहीं हीरोइन का नाम प्रिया यादव रखा गया है. मतलब साफ है, ये फिल्म लव जिहाद को बढ़ावा देती है. इसलिए लक्ष्मी बॉम्ब को तुरंत बैन कर देना चाहिए.

वहीं हिंदू जनजागृती समिती ने उद्धव सरकार पर भी तंज कसा है. फिल्म मुहम्मद द मैसेंजर ऑफ गॉड का जिक्र करते हुए लक्ष्मी बॉम्ब को भी बैन करने की मांग उठाई गई है. इस बारे में शिंदे ने कहा है- मुहम्मद द मैसेंजर ऑफ गॉड के लिए कहा गया था कि इस फिल्म ने मुस्लिम समुदाय की भावनाओं को ठेस पहुंचाई थी, इस वजह से महाराष्ट्र सरकार के गृह मंत्री ने फिल्म को बैन करने की बात की थी. इसी तर्ज पर सरकार को लक्ष्मी बॉम्ब को भी बैन करने की मांग उठानी चाहिए. फिल्म हिंदू देवी-देवताओं का अपमान कर रही है.

लक्ष्मी बॉम्ब हिंदू विरोधी?
akki-Tikli_jstnews
akki-Tikli_jstnews

हिंदू जनजागृती समिती की तरफ से अक्षय कुमार के किन्नर किरदार को लेकर भी आपत्ति दिखाई गई है. उनके मुताबिक फिल्म में किन्रर को निगेटिव किरदार में दिखाया गया है. जानबूझकर फिल्म में उनके किरदार के लिए लाल कुमकुम, लाल साड़ी , खुले बाल रखे गए हैं. वहीं उन्हें हाथ में त्रिशूल लेकर डांस करवाया गया है. इस पर शिंदे कहते हैं- क्या यहीं फिल्ममेकर जो अभी दिवाली पर ऐसी फिल्मे बना रहे हैं, क्या वे कभी ईद के मौके पर आयेशा बॉम्ब, फातिमा बॉम्ब, शबीना बॉम्ब जैसी फिल्में बनाने की हिम्मत दिखा पाएंगे. जैसे मुस्लिम समुदाय की भावनाओं का ध्यान रखा जाता है, वैसे ही हिंदू भावनाओं को क्यों नजरअंदाज किया जा रहा है. क्या इस देश में अब सेक्युलरिज्म का मतलब ही हिंदुओं के खिलाफ होना हो गया है.

 

 

 

 

- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img