Friday, June 14, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमUncategorizedमहिला और बाल सुरक्षा इकाई के पुलिसकर्मियों को मिला प्रशिक्षण 

महिला और बाल सुरक्षा इकाई के पुलिसकर्मियों को मिला प्रशिक्षण 

महिला और बाल सुरक्षा इकाई के पुलिसकर्मियों को मिला प्रशिक्षण
जनसागर टुडे धीरेन्द्र अवाना
नोएडा।पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा द्वारा आज प्रातः 11:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक गौतबुद्धनगर पुलिस की महिला और बाल सुरक्षा इकाई के पुलिसकर्मियों को प्रशिक्षण के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।इस कार्यशाला में तीन सेशन हुये।प्रशिक्षण के माध्यम से पुलिस कर्मियों को प्रोफेशनल मनोचिकित्सकों और मनोचिकित्सक द्वारा चाइल्ड रेप के पीडितों एवं उनके परिवारजनों की प्रभावी काउंसलिंग में प्रशिक्षण दिया गया ताकि पुलिस के माध्यम से दी गई काउंसिल से पीड़ित को अपने साथ होने वाले अपराध का आघात कम हो सके एवं उन्हें जीवन में सफल होने का हौसला मिल सके, साथ ही साथ परिवारों को सही काउंसलिंग दी जा सके कि वह इस घटना से जुड़ी लोकलाज का हवाला पीड़ित को न दें और सदैव उसे ज़िन्दगी में कामयाब बनने को प्रेरित करें। इसके साथ साथ विशेषज्ञों द्वारा रेप पीडितों में पैदा होने वाले पोस्ट-ट्रोमैटिक स्ट्रेस डिसऑर्डर को पहचानने पर चर्चा की जिन्हें मात्र पुलिस की काउंसलिंग से नहीं सुलझाया जा सकता और जिन्हें चिकित्सा उपचार की आवश्यकता होती है। पुलिस कर्मियों को पूरी जानकारी दी गई कि इस प्रकार की स्थिति में रेप पीडितों को किन सरकारी साइकेट्री सेवाओं को रेफर किया जा सकता है। यह पूरा प्रशिक्षण गौतम बुद्ध नगर पुलिस की नई सेवा पुलिस-सखी की तैयारी में आयोजित किया गया था। इस सेवा के अन्तर्गत बाल रेप के गंभीर प्रकरणों में  पुलिस की एक काउंसलर पीडितों एवं उनके परिवार के साथ जुड़कर काउंसलिंग देंगी।पीड़िता को प्रोफेशनल काउंसलिंग या उपचार की आवश्यकता होने की स्थिति में पुलिस उपायुक्त महिला सुरक्षा को सूचित करेंगी ताकि ये सेवायें प्राइवेट या सरकारी अस्पताल में उपलब्ध करवाई जा सकें। पुलिस द्वारा  विधिक कार्यवाही सुनिश्चत करने के साथ साथ अब बाल रेप के पीडितों की मानसिक एवं भावनात्मक स्थिति की ओर भी अपना योगदान देगी।प्रशिक्षण में डॉक्टर मनु तिवारी फोर्टिस हॉस्पिटल नोएडा,
रश्मि सिंह मानस गंगा क्लीनिक नोएडा,
 सुश्री साहू मानस गंगा क्लीनिक नोएडा,रश्मि समाज सेवी निठारी हॉस्पिटल और डॉक्टर तनुजा निठारी हॉस्पिटल आदि विशेषज्ञों ने भाग लिया। इसके अतिरिक्त कार्यशाला के दौरान महिला और बाल संबंधी अपराधों से सम्बंधित फोरेंसिक साक्ष्यों पर डॉक्टर अंजू रानी, विभागाध्यक्ष, फोरेंसिक मेडिसीन, GIMS, गौतमबुद्धनगर द्वारा एक सेशन लिया गया और डॉक्टर डीबी ढाका, सीएमएस, गौतबुद्धनगर द्वारा मेडिकल विभाग की सभी सेवाओं से पुलिसकर्मियों  को अवगत कराया गया और पीड़ितो के मेडिकल परीक्षण में आने वाली पुलिस की समस्याओं को सुना गया।
- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img