Thursday, June 20, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमNCRनदी में नहाने गए 4 बच्चे, 2 सगे भाई डूबे, घंटो NDRF...

नदी में नहाने गए 4 बच्चे, 2 सगे भाई डूबे, घंटो NDRF ने चलाया सर्च ऑपरेशन

जनसागर टुडे

गाजियाबाद। साहिबाबाद थाना क्षेत्र की हिंडन एयर फोर्स चौकी इलाके करहेड़ा के नजदीक हिंडन नदी के पास उस वक्त चीख-पुकार मच गई जब शनिवार दोपहर लगभग 1:00 बजे दो सगे भाई नदी में नहाते समय डूब गए। बता दें कि मार्च का महीना शुरू हो चुका है और धीरे धीरे गर्मी भी बढ़ रही है ऐसे में लोग गर्मी से राहत पाने के लिए तरह तरह के उपाय अपना रहे हैं लेकिन कुछ लोगों द्वारा गर्मी से निजात पाने का अपनाया गया तरीका जानलेवा साबित होगा यह शायद मासूम बच्चों को नहीं पता था। दरअसल हम बात कर रहे हैं साहिबाबाद थाना क्षेत्र के करहेड़ा नजदीक हिंडन नदी की जहां आज लगभग 1:00 बजे 4 बच्चे नदी में नहाने के लिए गए थे जहां चारों बच्चे नदी में डूब गए। नदी के पास केशव नाम का लड़का मछली पकड़ रहा था केशव ने चारों बच्चों को डूबता देखा तो तुरंत नदी में छलांग लगा दी केशव ने दो बच्चों को सकुशल बाहर निकाला जबकि 2 बच्चे नदी में डूब गए काफी देर तक एनडीआरएफ की टीम ने सर्च अभियान चलाया लेकिन देर शाम तक डूबे बच्चों का कोई पता नहीं लग पाया।जानकारी के अनुसार, करहेड़ा के नजदीक हिंडन नदी में नहाते समय शनिवार दोपहर दो सगे भाई डूब गए। जिस समय यह हादसा हुआ उस समय नदी के अंदर उनके साथ कुछ और बच्चे भी नहा रहे थे लेकिन वे सकुशल बाहर निकल आए। हादसे की जानकारी मिलते ही परिवारजन मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। इसके बाद एनडीआरएफ की टीम बच्चों की तलाश में जुटी। अभी तक डूबे बच्चों की तलाश जारी है। साहिबाबबाद थाना प्रभारी विष्णु कौशिक ने बताया कि दोपहर के समय बच्चों के डूबने की सूचना मिली थी। उसके बाद पुलिस टीम यहां पहुंची। घटना के कुछ देर बाद एसपी सिटी सेकेंड ज्ञानेंद्र सिंह ने भी मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया।पुलिस के मुताबिक करहेड़ा के रहने वाले किरणपाल सिंह सब्जी बेचने का काम करते हैं। सुबह 11 बजे के आसपास के कुछ बच्चे हिंडन नदी में नहाने के लिए पहुंचे थे। उनमें किरणपाल सिंह के बेटे प्रियांशु (12), अंशु (8) और पुनित (10) भी नहाने के लिए बाकी बच्चों के साथ उतर गया। नदी में पानी अधिक था। नदी में बाकी बच्चों के साथ ये तीनों भाई भी अंदर उतरने के बाद नहाने लगे। इसी दौरान प्रियांशु और अंशु गहरे पानी की तरफ चले गए और डूबने लगे। उन्हें डूबता देख बाकी बच्चे शोर मचाने लगे। तभी नदी किनारे मछली पकड़ रहे केशव ने आगे बढ़कर हिम्मत दिखाई। और पुनीत व शमशेर इस बीच सकुशल बाहर निकाल लिया। वहां से गुजर रहे लोग आवाज सुनकर मदद के लिए दौड़े लेकिन तब तक दोनों बच्चे डूब चुके थे। उसके बाद करहेड़ा गांव में परिवार के लोगों को भी इसकी खबर मिली। वे फौरन यहां पहुंचे। इस बीच साहिबाबाद पुलिस को भी जानकारी मिली पुलिस भी पहुंच गई। पुलिस ने बताया कि किरणपाल सिंह के तीन बेटे है और दो छोटी बेटी है। ये मूल रूप से जिला बुलंदशहर के रहने वाले हैं। गोताखोर और बोट तलाश में जुटी नदी में डूबे बच्चों की तलाश में साहिबाबाद पुलिस ने अपने 5 गोताखोर उतारे। पुलिस के गाेताखोर काफी देर तक नदी के अंदर उनकी तलाश करते रहे लेकिन कुछ पता नहीं चला। इस बीच एनडीआरएफ की दो टीम भी वहां पहुंची और बोट की मदद से उनकी तलाश में जुटी। लेकिन देर शाम तक उनकी कोई खबर नहीं मिली थी। बच्चों की तलाश के लिए दो बोटे मंगाई गई हैं। एनडीआरएफ की टीम बच्चों की तलाश करते हुए हिंडन बैराज तक भी गई थी।पिता की तबीयत बिगड़ी बच्चों के डूबने की खबर सुनकर मौके पर पहुंचे पिता काफी देर तक हिंडन नदी की तरफ देखते रहे। इस बीच जब उनकी कोई खबर नहीं मिली तो वे बेहोश हो गए। इस पर वहां मौजूद लोगों ने उन्हें सहारा दिया। इसके बाद उनके परिवार के बाकी लोग भी खबर सुनकर मौके पर पहुंच गए

- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img