Friday, June 14, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमलाइफस्टाइलमस्त तरीके से काम करेगा डायजेस्टिव सिस्टम, हर सुबह इस तरह खाएं...

मस्त तरीके से काम करेगा डायजेस्टिव सिस्टम, हर सुबह इस तरह खाएं कोकोनट वर्जिन ऑइल

हममें से ज्यादातर लोग अपनी त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाए रखने के लिए नारियल तेल का उपयोग करते हैं। इसके साथ ही काले और घने बालों की चाहत भी नारियल तेल पूरी करता है। लेकिन कम ही लोग जानते हैं कि यदि नारियल तेल का उपयोग भोजन के साथ किया जाए तो यह आपके पाचनतंत्र को स्वस्थ रखने का काम करता है और पेट को कब्ज (Constipation) मुक्त बनाता है…

ऐसे करें पहचान
coco_jstnews
coco_jstnews

-कोकोनट ऑइल, जिसका उपयोग आप अपने बालों और त्वचा पर मालिश के लिए करते हैं, वह एक ब्यूटी प्रॉडक्ट है। जबकि जिस तेल का उपयोग आप भोजन बनाने और भोजन में घी की तरह खाने के लिए कर सकते हैं, वह फूड ग्रेड कोकोनट ऑइल होता है।

-हालांकि यदि आप प्राकृतिक रूप से तैयार किया गया ताजा नारियल तेल, जिसमें किसी तरह की मिलावट और पेस्टिसाइट्स का उपयोग ना किया गया हो, उसे त्वचा पर लगाने और खाना बनाने दोनों तरह से उपयोग कर सकते हैं।

-लेकिन यदि आप मार्केट से इस तेल को खरीद रहे हैं तो इसके लेबल पर दी गई जानकारी को जरूर पढ़ें कि यह फूड ग्रेड है या कॉस्मेटिक उपयोग के लिए है।

क्या होता है वर्जिन ऑइल?
olive-oil-picture_jstnews
olive-oil-picture_jstnews

-कोकोनट वर्जिन ऑइल उस नारियल तेल को कहते हैं, जिसे ताजा नारियल से तैयार किया जाता है। यह एक ऐसा तेल होता है, जिसमें किसी भी तरह की रासायनिक मिलावट नहीं की जाती है। बल्कि इसे प्राकृतिक तरीके से तैयार करते हुए इसके सभी नैचरल गुणों को सुरक्षित रखा जाता है।

ओवर ऐक्टिव ब्लेडर से परेशान हैं तो मीटिंग और सफर से पहले बिल्कुल ना खाएं ये 5 चीजें

कब्ज की समस्या से बचाए
coconut-and-coconut-oil_jstnews
coconut-and-coconut-oil_jstnews

-यदि आपको कब्ज की समस्या रहती है, सुबह एक बार में आपका पेट ठीक से साफ नहीं होता है तो आप अपनी सुबह की चाय में एक चम्मच कोकोनट वर्जिन ऑइल मिलाकर पी सकते हैं।

-इससे आपकी कब्ज की समस्या में राहत मिलेगी और आपका पेट साफ रहेगा। जिससे आप पूरा दिन खुद को हल्का और तरोताजा अनुभव करेंगे।

कैसे काम करता है नारियल तेल?
-कोकोनट वर्जिन ऑइल अन्य फूड ग्रेड ऑइल्स की तुलना में काफी हल्का और सुपाच्य माना जाता है। यह तेल आंत और लिवर द्वारा आसानी से अवशोषित कर लिया जाता है। इसलिए यह आपके कोलोन की मसल्स को अंदर से नमी प्रदान करता है और स्मूद बनाता है।

-कोलोन की अंदरूनी कोशिकाएं नरिश होने से उनमें प्राकृतिक चिकनाई रहती है, इससे मोशन के दौरान आपको दर्द और पीड़ा नहीं होती है। जिन लोगों को पाइल्स यानी बवासीर की समस्या हो, उनका दर्द कम करने में भी यह तेल काफी सहायक होता है।

ये 5 आदतें बढ़ाती हैं पेट में गैस और भारीपन, जानें आप किसका शिकार हैं?
coconut_jstnews
coconut_jstnews

-नारियल तेल में ओमेगा-3 फैटी एसिड, कैल्शियम, मैग्नीशियम और लॉरिक एसिड पाए जाते हैं। ये सभी शरीर को अंदर से पोषण देने का काम करते हैं। लॉरिक एसिड आपके पाचनतंत्र में मौजूद हानिकारक बैक्टीरिया को खत्म करके गुड बैक्टीरिया को बढ़ाता है।

-इस कारण आपका पाचन ठीक प्रकार से होता है और अपशिष्ट पदार्थ पेट में जमा नहीं हो पाते हैं। परिणामस्वरूप आपका पेट साफ रहता है और कब्ज की समस्या से निजात मिलती है।

 

इस तरह भी कर सकते हैं उपयोग
coco_jstnews
coco_jstnews

-नारियल तेल का उपयोग आप घी की तरह भी कर सकते हैं। रोटियों पर घी की जगह कोकोनट वर्जिन ऑइल लगाकर खाएं। इससे रोटी का स्वाद भी बढ़ेगा और रोटी नर्म भी रहेगी।

-सब्जी में घी और बटर की जगह कोकोनट वर्जिन ऑइल का उपयोग करें। इससे यह आपके भोजन को जल्दी पचाने में मदद करेगा। शारीरिक कमजोरी को दूर करेगा।

-कोकोनट वर्जिन ऑइल का उपयोग दाल और सब्जी में तड़का लगाने, पराठे या पूड़ी बनाने में भी किया जा सकता है। आप जिस तरह भी इस ऑइल को खाना पसंद करें, इसे जरूर खाएं। आपका पाचनतंत्र ठीक रहेगा।

- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img