Thursday, June 20, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमदेशCBSE ने बच्चों के लिए लॉन्च की प्रैक्टिस बुक

CBSE ने बच्चों के लिए लॉन्च की प्रैक्टिस बुक

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने छात्रों में क्रि टिकल थ‍िंक‍िंग और प्रॉब्लम्स को सॉल्व करने की क्षमता को बढ़ाने के लिए मैथ प्रैक्टिस बुक लॉन्च की है. ‘Mathematical Literacy: Practice Book for Students’ टाइटल से ये किताब क्लास 7 से 10 तक के छात्रों को पढ़ाई जाएगी.
केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा सोशल मीडिया पर प्रैक्टिस बुक के शुभारंभ की घोषणा की गई थी, जिसमें कहा गया था कि भारत के शिक्षा मंत्रालय के मार्गदर्शन में, CBSE ने कक्षा 7 से 10 तक के छात्रों के लिए एक व्याख्यात्मक गणित अभ्यास पुस्तक लॉन्च की है, जो मजेदार, रोमांचक तरीके से गण‍ित सीखने में मददगार होगी.

Jst_news
Jst_news

वहीं, इस मैथेमेटिक्स की वर्कबुक के बारे में सीबीएसई ने अपने बयान में कहा है कि यह मैथ वर्कबुक है, जिसे इस तरह से डिजाइन किया गया है कि छात्र शिक्षकों या माता-पिता की मदद के बिना ही गणित की समस्याओं को सीख और हल कर पाएंगे. CBSE की यह गणित की प्रैक्टिस बुक CBSE वेबसाइट और DIKSHA प्लेटफॉर्म पर भी उपलब्ध है. यह वर्कबुक शिक्षा मंत्रालय के मार्गदर्शन में तैयार की गई है.

Jst_news
Jst_news

बता दें कि मार्च से ही देश के स्कूल बंद हैं. कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन से पहले ही स्कूलों को बंद कर दिया गया था. स्कूल बच्चों को ऑनलाइन माध्यम से पढ़ा रहे हैं. वहीं सरकार ने अनलॉक 5 की गाइडलाइन में भी ऑनलाइन श‍िक्षा को बढ़ावा देने की बात की है.

सरकार ने अपने दिशानिर्देश में स्पष्ट किया है कि कोई भी स्कूल बच्चों पर स्कूल आने का दबाव नहीं डालेगा. सिर्फ पेरेंट्स की ल‍िख‍ित सहमति से ही बच्चों को स्कूल आने की इजाजत होगी. इसके मद्देनजर ये किताब छात्रों को ऑनलाइन जरिये से आसानी से गण‍ित सीखने में मददगार होगी. इसे इस तरह से डिजाइन किया गया है ताकि क्रिेट‍िकल थ‍िंकिंग के जरिये छात्र आसानी से गण‍ितीय समस्याओं को सुलझा सकें.

Jst_news
Jst_news

सरकार ने गाइडलाइन में ये भी कहा है कि स्कूल कॉलेज ऑनलाइन या डिस्टेंकस लर्निंग को प्राथमिकता और बढ़ावा दें. अगर स्कूल खोले जाएं तो कोरोना संबंध‍ित केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सभी प्रोटोकॉल फॉलो किए जाएं. अगर कोई छात्र ऑनलाइन क्लास करना चाहता है तो स्कूल उन्हें परमिशन दे. बच्चों की सेफ्टी के लिए शिक्षा विभाग की SOP के आधार पर राज्यच सरकार अपनी SOP भी तैयार करेगी.

- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img