Saturday, June 22, 2024
No menu items!
spot_img
spot_img
होमpoliticsशाहीन बाग में हुए प्रदर्शन को लेकर, सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

शाहीन बाग में हुए प्रदर्शन को लेकर, सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला

दिसंबर 2019 में केंद्र सरकार ने संसद से नागरिकता संशोधन कानून बिल पास किया था। जिसके तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले धार्मिक अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने का प्रावधान किया गया। इस कानून को धर्म के आधार पर बांटने वाला बताकर दिल्ली से शाहीन बाग से लेकर देश के कई हिस्सों में प्रदर्शन किए गए। शाहीन बाग में दिसंबर से मार्च तक कोरोना लॉकडाउन लगने तक सड़कों पर प्रदर्शन चला था।

Jst_news
Jst_news

नागरिकता संशोधन कानून  के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में हुए प्रदर्शन को लेकर, सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि  सार्वजनिक जगहों पर अनिश्चितकाल तक प्रदर्शन नहीं हो सकता, चाहे वो शाहीन बाग हो या कोई और जगह। निर्धारित जगहों पर ही प्रदर्शन किया जाना चाहिए। आने-जाने के अधिकार को रोका नहीं जा सकता। आवागमन का अधिकार अनिश्चितकाल तक रोका नहीं जा सकता।

Jst_news
Jst_news

कोर्ट ने ये भी कहा कि सार्वजनिक बैठकों पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता है लेकिन उन्हें निर्धारित क्षेत्रों में होना चाहिए। संविधान विरोध करने का अधिकार देता है लेकिन इसे समान कर्तव्यों के साथ जोड़ा जाना चाहिए। विरोध के अधिकार को आवागमन के अधिकार के साथ संतुलित करना होगा। सुप्रीम कोर्ट ने फैसले में ये भी कहा कि प्रशासन को रास्ता जाम कर प्रदर्शन रहे लोगों को हटाना चाहिए, कोर्ट के आदेश का इंतजार नहीं करना चाहिए।

 

- Advertisement -spot_img

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

- Advertisment -spot_img

NCR News

Most Popular

- Advertisment -spot_img